rachin ravindra

रचिन रविंद्र

भारत से ताल्लुक रखने वाले न्यूजीलैंड के युवा ऑलराउंडर रचिन रवींद्र ने भारत में कदम रखते ही कमाल कर दिया है। रचिन ने वनडे वर्ल्ड कप से पहले पाकिस्तान  के खिलाफ वॉर्मअप मैच में जबरजस्त पारी खेली। 23 साल के इस युवा ने टीम की शुरुवात की और टीम को संकट से निकाला। रचिन भारतीय मूल के खिलाड़ी हैं। रचिन के  इस शानदार पारी की सोशल मीडिया पर जमकर चर्चा हो रही है। लोग जानना चाहते हैं कि आखिर यह टैलेंटेड खिलाड़ी कौन है जिसने वर्ल्ड क्लास पाकिस्तानी गेंदबाजी आक्रमण को तहस नहस कर दिया।  उनके नाम के पीछे कहानी टीम इंडिया की दीवार राहुल द्रविड़ और क्रिकेट के भगवान सचिन तेंदुलकर से कैसे जुड़ी है।
रचिन को भारत में 5 अक्टूबर से शुरू होने वाले वर्ल्ड में न्यूजीलैंड के तरफ से रचिन अपने टीम में शामिल किया गया है।  रचिन को  पाकिस्तान के खिलाफ वॉर्मअप मैच में  न्यूजीलैंड के तरफ से पारी की शुरुवात  करने के लिए उतारा गया। डेवोन कॉनवे और रचिन की जोड़ी ने कीवी टीम के  पारी की शुरुआत की।  तेज गेंदबाज हसन अली ने अपने पहले ही ओवर की पहली गेंद पर कॉनवे को आउट कर कीवी टीम को बड़ा झटका दिया। कॉनवे खाता  बिना ही पवेलियन लौट गए। पहला विकेट जल्दी गिरने के बाद रचिन ने कप्तान केन विलियमसन के साथ मिलकर पारी को संभाला। दोनों बैटर्स ने दूसरे विकेट के लिए 179 रन की साझेदारी कर टीम को मुश्किल से बाहर निकाल दिया।

वर्ल्ड कप के पहले वार्मअप मैच में किया कमाल

रचिन ने 72 गेंदों पर 16 चौकों और एक छक्के की मदद से 97 रन बनाए। वह शतक के हकदार थे लेकिन अगा सलमान की एक गेंद पर बोल्ड हो गए और 3 रन से अपना शतक बनाने से चूक गए। रजिन ने 41 गेंदों पर हाफ सेंचुरी पूरी की। इस युवा खिलाड़ी ने वर्ल्ड कप से पहले अपने इरादे बता दिए हैं कि उन्हें हल्के में लेने की कोई भूल ना करे।  पाकिस्तान ने पहले बैटिंग करते हुए 5 विकेट पर 345 रन  विशाल स्कोर खड़ा किया था।

बैंगलोर से ताल्लुक रखते है रचिन के पिता और द्रविड़ तथा सचिन के फैन हैं

रचिन का जन्म 18 नवंबर 1999 को न्यूजीलैंड के वेलिंगटन शहर में हुआ था। उनके पिता रवि कृष्णमूर्ति एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर हैं तथावे  बैंगलोर से ताल्लुक रखते हैं। रवि कृष्णमूर्ति 90 के दशक में बैंगलोर से न्यूजीलैंड शिफ्ट हो गए थे।  रचिन ने बहुत कम उम्र में अपनी प्रतिभा दिखाई और वह जल्द ही न्यूजीलैंड की अंडर 19 टीम में शामिल हो गए।
न्यूजीलैंड की घरेलू क्रिकेट में  रचिन ने शानदार प्रदर्शन किया और इनाम  के रूप में उन्हें जल्द ही नेशनल टीम में शामिल कर लिया गया। रचिन के पिता दिग्गज राहुल द्रविड़ और सचिन तेंदुलकर के बड़े फैन हैं। जब रचिन का जन्म हुआ तब उनके पिता ने राहुल के RA और सचिन के Chin मिलाकर बेटे का नाम रखने का फैसला किया।  इस तरह उनका नाम रचिन हो गया।

रचिन का क्रिकेट करियर

रचिन रवींद्र ने न्यूजीलैंड की ओर से अभी तक 3 टेस्ट, 12 वनडे और 18 टी20 इंटरनेशनल मैच खेले हैं. उन्होंने टेस्ट में 73, वनडे में 189 और टी20 इंटरनेशनल क्रिकेट में 145 रन बनाए हैं ।
क्रिकेट के ऐतिहासिक तथा लेटेस्ट खबर हिंदी में पढ़ने के लिए हमारा  ऐप लिंक से डाउनलोड करे। 
https://play.google.com/store/apps/details?id=com.news.cricketkhabar

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *